कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद भड़के रणनीतिकार PK पर, जानें ट्वीट कर क्या कहा ?

0 57

नई दिल्ली। कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने शुक्रवार को सियासी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की उस टिप्पणी के लिए उन पर हमला बोला, जिसमे उन्होंने कहा था कि विपक्षी नेतृत्व का फैसला लोकतांत्रिक रूप से किया जाना चाहिए। सलमान खुर्शीद ने ट्वीट करते हुए कहा कि,’PK कांग्रेस कार्यकर्ताओं की लोकतांत्रिक पसंद पर सवाल खड़े करने के लिए देवत्व का इस्तेमाल करते हैं। यह हमें बताता है कि सियासत के बारे में कॉपी बुक ज्ञान मानव आचरण को प्रभावित नहीं करता है। राजनीति सिर्फ चुनाव जीतने को लेकर नहीं है।’

सलमान खुर्शीद ने कहा कि, ‘PK के लिए सबक – देवत्व विश्वास के संबंध में है। लोकतंत्र विश्वास के संबंध में है। अन्य लोग लोकतांत्रिक पसंद के लिए स्क्रिप्ट नहीं लिख सकते हैं। यदि लोकतांत्रिक विकल्प समझ में नहीं आता है, तो स्कूल वापस जाएं और नए सिरे से पढ़ाई शुरू करें। शायद आस्था और विश्वास को अलग-अलग करना भाजपा को जवाब होगा।’ बता दें कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर परोक्ष निशाना साधते हुए PK ने गुरुवार को कहा था कि पार्टी का नेतृत्व “किसी व्यक्ति का दैवीय अधिकार” नहीं है।

PK ने कसा राहुल पर तंज

प्रशांत ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस जिस विचारधारा और राजनीति का प्रतिनिधित्व करती है, वह अहम है, किंतु उसका नेतृत्व किसी व्यक्ति का नैसॢगक अधिकार नहीं है, विशेषकर तब जब पार्टी पिछले 10 साल में 90 प्रतिशत चुनाव हार चुकी है।

ममता के रीट्वीट, पर मचा बवाल

अपने रीट्वीट में ममता ने कहा “अब कोई यूपीए नहीं है” प्रशांत किशोर ममता बनर्जी के राजनीतिक सलाहकार और ममता के करीबी माने जाते है. ममता की ट्वीट पर कांग्रेस के कई नेताओं ने उनकी जमकर आलोचना भी की है. कांग्रेस नेताओ ने ममता पर विपक्षी एकता में दरार पैदा करने का भी आरोप लगाया है. इतना ही नहीं भाजपा के साथ गठबंधन का भी आरोप लगाया है.

ममता ने 2012 में तोडा था UPA से गठबंधन

मालूम हो ममता बनर्जी ने 2012 में कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) से अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस को पूरी तरह से अलग कर लिया था. राष्ट्रीय स्तर पर टीएमसी को कांग्रेस के विकल्प के रूप में पेश करने के लिए एक विस्तार पर अभियान जारी है.