कोरोना के नए वेरियंट ने बढ़ाई चिंता, मुंबई में क्वारंटीन तो गुजरात में RT-PCR अनिवार्य

0 78

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के नए वेरिएंट आने के बाद एक बार फिर दुनियाभर के देशों की चिंता बढ़ गयी है. कई देशों ने नए वेरिएंट से प्रभावित देशों की उड़ानों पर तत्काल रोक लगा दी है, तो वही कुछ देशों ने वहां से आने वाले यात्रियों के लिए क्वारंटीन अनिवार्य कर दिया है. अब भारत में भी कोरोना के नए वेरिएंट से बचाव के लिए सरकार तैयार है। इसके साथ ही सख्त कदम उठाने की मांग भी विपक्ष ने शुरू कर दिया है .

वही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि कोरोना के नए वेरिएंट से प्रभावित देशों की फ्लाइट्स पर तत्काल रोक लगा दी जाए। जिससे कोरोना का नया वेरिएंट भारत में अपना पाव न फैला सके । जो भी देश अभी कोरोना के इस नए वेरिएंट से प्रभावित हैं, उन देशों की यात्रा पर तुरंत प्रतिबंध लगा दिया जाये। अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के शुरुआती मामलों का भी जिक्र किया है कि देश ने कोरोना के समय कितने अपनों को खोया था।

अरविंद केजरीवाल ने अपने बयान में इस बात का भी ज़िक किया है कि देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण का पहला मामला भी हवाई यात्रा की वजह से ही सामने आया था। उन्होंने कोरोना काल की मुश्किलों का भी जिक्र किया और कहा कि देश कोरोना महामारी के संकट से बड़ी मुश्किल से उबरा है। हमें हर वह प्रयास करना चाहिए जिससे कोरोना के नए वेरिएंट को देश में प्रवेश करने से रोका जा सके।

सर्वदलीय बैठक में आप उठाएगी मुद्दा

आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी मीडिया से कहा है कि ऑल पार्टी मीटिंग के दौरान नए कोरोना वेरिएंट से भारत को बचाने के लिए हम अपना सुझाव केंद्र सरकार के सामने रखेंगे और . केंद्र सरकार को भी स्पष्ट दिशा- निर्देश जारी करने की सख्त ज़रूरत है. नए वेरिएंट ने सभी की चिंता बढ़ा है। उन्होंने कहा कि केंद्र को तत्काल कदम उठाने की ज़रूरत है। केंद्र सरकार अपना कदम तब न उठाएं जब स्थिति भयानक रूप न लें और पूरा मामला हाथ से बहार न निकल जाए। नया वेरिएंट ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है, इसलिए तत्काल केंद्र सरकार एक्शन ले और प्रभावित देशों की फ्लाइट बंद करे।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर चिंता जताई थी। अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि अफ्रीकी देशों से कोरोना के नए वेरिएंट के खतरे को देखते हुए हमने विशेषज्ञों से सुझाव देने के लिए कहा है। अरविंद केजरीवाल ने विशेषज्ञों के समूह से इसे लेकर भी राय मांगी थी कि नए वेरिएंट से निपटने के लिए क्या कदम उठाए जाएं।

अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी से अपील की है कि ऐसे समय में आई जब उच्च स्तरीय बैठक होनी थी। पीएम मोदी ने कोरोना के हालात और वैक्सीनेशन को लेकर उच्च स्तरीय बैठक बुलाई थी, जिसमें कैबिनेट सेक्रेटरी के साथ ही कई अन्य आला अधिकारी शामिल हुए।

मुंबई आने पर होना होगा क्वारंटीन

नए कोरोना वेरिएंट पर मुंबई महानगर पालिका भी सक्रिय नज़र आ रही है . बीएमसी की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि जो लोग दक्षिण अफ्रीका से मुंबई आ रहे हैं उन्हें क्वारनटीन किया जाएगा और वायरस पाए जाने के बाद जिनोम सिक्वेंसिंग भी करवाई जाएगी। इस मामले पर बीएमसी ने आज शाम 5.30 बजे अपने आला अधिकारियों की बैठक बुलाई है।

मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि शादी का सीजन चल रहा है, क्रिसमस भी आ रहा है और दुनिया भर से लोग मुंबई अपने परिवार के साथ आस पास घूमने भी आते है। बीएमसी पूरी सावधानी बरत रहा है। ये नया वेरिएंट कई देशों में चिंता बन गया है। इसलिए हमें हर तरीके से तैयार रहने की ज़रुरत हैं। मेयर ने लोगो से अपील की है कि सोशल डिस्टेंस का पालन करे और फेस मास्क ज़रूर लगाए।

गुजरात में एंट्री के लिए RT-PCR अनिवार्य

गुजरात सरकार ने एयरपोर्ट पर लैंड करने वाले कुछ देशों के यात्रियों के लिए RT-PCR की ज़रूरी कर दिया है। यूरोप, यूनाइटेड किंगडम, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बॉब्वे, हॉन्गकॉन्ग से आने वाले यात्रियों को एयरपोर्ट पर कोरोना की निगेटिव RT-PCR रिपोर्ट दिखानी जरूरी होगी।

जानें क्या कहते है एक्सपर्ट ?

एक्सपर्ट का कहना है कि ओमिक्रोन वेरिएंट कोविड-19 के दूसरे सभी वेरिएंट की तुलना में तेजी से फैलता है। इसका म्यूटेशन दूसरे की अपेक्षा ज्यादा तेज है। कहा जा रहा है कि नेचुरल इम्युनिटी और वैक्सीनेशन के बाद मिली इम्युनिटी के प्रभाव को भी तोड़ते हुए ओमिक्रोन संक्रमित करने में सक्षम है। पीएम मोदी इससे पहले 3 नवंबर को भी इस तरह की समीक्षा बैठक कर चुके हैं। पिछली मीटिंग में उन्होंने जहां टीकाकरण कम हुआ था, उन जिलों के अधिकारियों और मुख्यमंत्रियों से बातचीत की थी।