तालिबान पर हफ्ते में चौथा हमला, स्थिति तनावपूर्ण

0 243

काबुल।अफगानिस्तान में बुधवार को तालिबान पर एक बार हमला हुआ। तालिबान पर यह एक हफ्ते में चौथा हमला है। इस हमले में कम से कम पांच लोगों के मारे जाने की खबर सामने आ रही है। बताया गया है कि मरने वालों में दो लड़ाके और तीन आम नागरिकों शामिल हैं। अफगानिस्तान में कब्जे के बाद से ही तालिबानी लड़ाकों पर ऐसे हमले हो रहे हिं। पिछले एक हफ्ते में यह तीसरी बार है जब तालिबानी वाहनों पर कोई हमला हुआ है।

गैस स्टेशन के पास आज्ञात हमलावरों ने किया हमला

चश्मदीदों ने बताया कि प्रांतीय राजधानी जलालाबाद में एक गैस स्टेशन पर खड़े तालिबान के वाहन पर बंदूकधारियों ने गोलियां चलाईं, जिससे दो लड़ाकों और गैस स्टेशन के कर्मी की मौत हो गई। इस हमले में एक बच्चे की भी जान चली गई। एक और हमले में तालिबान के वाहन को बम से निशाना बनाया गया। इसमें एक बच्चे की मौत हो गई और दो तालिबान लड़ाके घायल हुए। जलालाबाद में ही तालिबान के वाहन पर एक और बम हमला किया गया, जिसमें एक व्यक्ति घायल हो गया। फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि वह व्यक्ति तालिबान का पदाधिकारी है या नहीं।

किसी ने नहीं ली हमले की जिम्मेदारी

फिलहाल इस हमले की जिम्मेदारी किसी संगठन ने नहीं ली है। हालांकि, पिछले हफ्ते ऐसे ही कुछ हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट-खोरासान (आईएस-के) ने ली थी। तालिबान और इस्लामिक स्टेट एक दूसरे के कट्टर विरोधी हैं और अमेरिका के जाने के बाद आईएस और अलकायदा जैसे संगठनों का अफगानिस्तान में पैर फैलाना तय माना जा रहा है था।

बता दें कि अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार स्थापित होने के बाद से ही मुल्ला अब्दुल गनी बरादर और हक्कानी नेटवर्क के बीच मनमुटाव और तनातनी की खबरे सामने आई थी।जिसके बाद से ही यह दावा किया जा रहा है कि तालिबान की सरकार में अंदरूनी कलह मची हुई है। शायद यही वजह है कि अन्य आतंकी संगठन इस कमजोरी का फायदा उठाने में लगे हुए हैं।