इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

सीताराम येचुरी का केंद्र पर हमला, कहा- प्राइवेट है पीएम केयर फंड      ||      दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      जम्मू कश्मीर के कुलगाम में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी गिरफ्तार      ||      यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      यूपीः CM योगी और अखिलेश यादव को कोरोना, प्रियंका गांधी का ट्वीट- आप सुरक्षित रहें      ||     

कोरोना महामारी को देखते हुए डीजीसीए ने जारी किया सर्कुलर, जानें नियम

Shikha Awasthi 30-03-2021 14:49:07 12 Total visiter


देश में कोरोना वायरस महामारी की रफ्तार लगातार बढ़ती जा रही है। रोज नए आंकड़े सामने आ रहे हैं। इसके मद्देनजर सरकार लोगों को सख्त निर्देश दे रही है। वहीं नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा है कि हवाई अड्डों पर कोविड-19 के नियमों का पालन सही ढंग से नहीं हो रहा है। सभी हवाई अड्डे के परिचालकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि लोगों ने मास्क सही तरीके से पहना है या नहीं, साथ ही हवाई अड्डे के परिसर में सुरक्षित सोशल डिस्टेंसिंग भी बनाए रखनी होगी। वहीं आगे डीजीसीए ने कहा कि इसका उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा।

बता दें कि 25 मई 2020 को उड़ान सेवाएं फिर से शुरू हुईं हैं। अब चूंकि कई राज्यों में फिर से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। जिसको देखते हुए एयरलाइन कंपनियों ने भी सख्ती कर दी है। मालूम हो कि यह सुनिश्चित करने के लिए कि विमान के अंदर कोरोना संबंधी नियमों का पालन हो रहा है या नहीं, डीजीसीए ने एयरलाइंस को अचानक जांच करने का निर्देश भी दिया है। इसमें देखा जाएगा कि कंपनियां और यात्री कोरोना के नियमों का कितना पालन कर रहे हैं। अगर एयरलाइंस विमान के अंदर नियमों का पालन सुनिश्चित नहीं करा पाती हैं, तो उन पर जुर्माना भी लगाया जा सकता है। साथ ही, यदि कोई व्यक्ति बार-बार चेतावनी के बावजूद नहीं मानता है तो उसके साथ 'अनियंत्रित यात्री' जैसा व्यवहार किया जाएगा।

यदि कोई यात्री बार-बार चेतावनी के बाद भी मास्क नहीं पहने या कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं करे तो उसे 'अनियंत्रित यात्री' माना जाए और संबंधित एयर लाइन उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करे। 

यदि कोई यात्री क्रू मेंबर पर हमला करता है तो उसे छह माह के लिए हवाई यात्रा से प्रतिबंधित किया जा सकता है। जान को खतरा पैदा करता है तो उसे दो साल या अधिक के हवाई सफर से प्रतिबंधित किया जा सकता है।

इसके अतिरिक्त आरोग्य सेतु एप को मोबाइल में डाउनलोड करना जरूरी है। एयरपोर्ट में प्रवेश से पहले सभी का तापमान भी जांचा जाएगा। बोर्डिंग पास के बिना यात्रियों को प्रवेश की अनुमति नहीं मिलेगी। मास्क को हर समय सही तरीके से पहनना होगा। कई राज्यों में आपको आरसीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट भी देनी होगी। उतरने के लिए जब आपकी लाइन की घोषणा हो तभी आप सीट से उठ सकते हैं।

 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :