इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

सीताराम येचुरी का केंद्र पर हमला, कहा- प्राइवेट है पीएम केयर फंड      ||      दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      जम्मू कश्मीर के कुलगाम में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी गिरफ्तार      ||      यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      यूपीः CM योगी और अखिलेश यादव को कोरोना, प्रियंका गांधी का ट्वीट- आप सुरक्षित रहें      ||     

कांग्रेस का सवाल- साठ हजार करोड़ की राफेल डील में किसे दिए गए करोड़ों के 'गिफ्ट'?

vishal RAO 05-04-2021 14:15:29 11 Total visiter


फ्रांस। भारत-फ्रांस के बीच हुए राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर एक बार फिर कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर हो गई है। दरअसल, फ्रांस के पब्लिकेशन मीडियापार्ट ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि 2016 में जब भारत और फ्रांस में राफेल लड़ाकू विमान को लेकर डील हुई थी, तब फ्रांस की दसॉ एविएशन ने भारत में एक बिचौलिये को 1.1 मिलियन यूरो दिए थे। इसके बाद कांग्रेस हमलावर हो गई है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने सवाल पूछा है कि 60 हजार करोड़ रुपए की राफेल डील में 1.1 मिलियन यूरो के गिफ्ट किसे दिए गए?

फ्रांस के पब्लिकेशन मीडियापार्ट ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि भारत-फ्रांस के बीच राफेल डील को लेकर दसॉ एविएशन ने भारत में एक बिचौलिये को 1.1 मिलियन यूरो दिए थे। ये खुलासा तब हुआ जब फ्रांस की एंटी करप्शन एजेंसी ने दसॉ के खातों का ऑडिट किया। रिपोर्ट में दावा है कि साल 2017 में दसॉ ग्रुप के अकाउंट से 508925 यूरो ‘गिफ्ट टू क्लाइंट्स’ के तौर पर ट्रांसफर हुए थे।

इसे Gift to Clients क्यों कहा गया?
रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, "इस पूरे लेन-देन को Gift to Clients की संज्ञा दी गई। अगर ये मॉडल बनाने के पैसे थे, तो इसे Gift to Clients क्यों कहा गया? क्या ये छिपे हुए ट्रांजेक्शन का हिस्सा था. ये पैसे जिस कंपनी को दिए गए, वो मॉडल बनाती ही नहीं हैं." उन्होंने कहा, "60 हजार करोड़ रुपए के राफेल रक्षा सौदे से जुड़े मामले में सच्चाई सामने आ गई है। ये हम नहीं फ्रांस की एक एजेंसी ने खुलासा किया है."

                                   

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :