इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

दिल्लीः हरिद्वार कुंभ से लौटे श्रद्धालुओं को रहना होगा 14 दिन क्वारनटीन, DDMA का आदेश      ||      MP: शहडोल-मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी के चलते 6 मरीजों की मौत      ||      UP: कोरोना के चलते इस साल अयोध्या में नहीं लगेगा रामनवमी का उत्सव मेला      ||      कोरोना: भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2,61,500 नए मामले, 1501 मरीजों की मौत      ||      कोरोना: JEE (Mains) का अप्रैल सेशन स्थगित, परीक्षा से 15 दिन पहले जारी होगी नई तारीख- NTA      ||     

पति ने दी थी पत्नी और बेटे को जान से मारने की सुपारी, लेकिन मासूम को देखकर पिघल गया हत्यारा

pooja 28-02-2021 17:14:50 90 Total visiter


गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में हैरान कर देने वाली एक घटना सामने आई है। जहां एक लालची युवक ने पैसों के लालच में अपने ही बेटे और पत्नी की हत्या की सुपारी दे डाली। लेकिन पेशेवर हत्यारा है जो मर्डर के इरादे से गया तो था लेकिन चार साल के मासूम का चेहरा देखकर आगे नहीं बढ़ पाया। बच्चे और उसकी मासूमियत को देख सीरियल किलर का दिल ऐसा पसीजा कि उसने किसी की हत्या नहीं की, बल्कि महिला को उसके पति की सच्चाई भी बता दी।

बता दें कि यह घटना गाजियाबाद के महिंद्रा एंक्लेव की है। सोसायटी का रहने वाला अजय यादव बीमा क्लेम करने के लिए पत्नी और बेटे की हत्या करवाना चाहता था, जिसके लिए उसने सुपारी दी थी। अजय यादव मूलरूप से थाना सरायमीर जन, जिला आजमगढ़ के गांव नंदाव का रहने वाला है। फिलहाल उसे कविनगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इस मामले में अजय के साथी रामप्रकाश निवासी विजयनगर बागू को भी गिरफ्तार किया है। अजय को सुपारी किलर गजराज से रामप्रकाश ने ही मिलवाया था। 

पुलिस का कहना है कि एक तीर से दो निशाने साधने के लिए अजय यादव ने पत्नी राखी व चार साल के बेटे की हत्या की सुपारी दी थी। बीमा क्लेम लेने के अलावा पत्नी-बेटे को रास्ते से हटाना उसका मकसद था। क्योंकि वह किसी अन्य महिला के संपर्क में था।

मूलरूप से पटना बिहार निवासी राखी के मुताबिक वह पति व चार साल के बेटे के साथ कविनगर थानाक्षेत्र के महिंद्रा एंक्लेव में रहती हैं। अजय यादव दवा कंपनी में एमआर हैं। राखी ने करीब साढ़े पांच साल पहले अजय से लव मैरिज की थी। शादी के बाद सबकुछ ठीकठाक चल रहा था। लेकिन बीते एक साल से दोनों में विवाद शुरू हो गया। 

राखी का कहना है कि गत 25 फरवरी को गजराज नाम का व्यक्ति उनके घर आया। पूछने पर उसने बताया कि अजय ने उनकी व उनके बेटे की हत्या की सुपारी उसे दी है। लेकिन मासूम बच्चे को देखकर उसे दया आ गई है। राखी को भरोसा नहीं हुआ तो गजराज ने उसकी एक वीडियो दिखाई। जिसमें वह गजराज से कह रहा है कि पत्नी-बेटे को गोली मत मारना। उन्हें एक्सीडेंट में मारना, ताकि बीमा क्लेम मिल सके। पति की सच्चाई सामने आने पर राखी ने कविनगर थाने में केस दर्ज कराया।

 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :