इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

देशभर में 18 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए आज से शुरू हो रहा रजिस्ट्रेशन      ||      लखनऊ: मेदांता अस्पताल में मरीजों की मदद के लिए प्रियंका गांधी ने भेजा ऑक्सीजन का टैंकर      ||      भारत में कोरोना की बिगड़ती स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने बढ़ाया मदद का हाथ      ||      असम में आए भूकंप पर प्रियंका गांधी ने कहा- असम के लोगों के लिए मेरा प्यार और प्रार्थनाएं      ||      PM CARES से DRDO खड़े करेगा 500 ऑक्सीजन प्लांट      ||     

जोधपुर एम्स में ब्लैक फंगस मरीजो की कतार, दिखें ये लक्षण तो कराएं टेस्ट 

pooja 16-05-2021 12:12:07 19 Total visiter


जोधपुर: कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलो के बीच ब्लैक फंगस के मामलों में लगातार बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है. कोरोना से स्वास्थ्य विभाग दो-दो हाथ कर ही रहा था कि अब ब्लैक फंगस के बढ़ते केस ने स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ा दी है. जोधपुर एम्स में ब्लैक फंगस के 50 मरीज मिले है. वही डॉ हर रोज दो मरीजों का ऑपरेशन कर रहे है. 

दरअसल जोधपुर एम्स में रोजाना दो ब्लैक फंगस मरीजों ऑपरेशन हो रहा है.  अकेले जोधपुर एम्स में जोधपुर में 50 मरीजो में ब्लैक फंगस का इलाज तो हो रहा है. हालांकि पिछले 5 महीनो में 50 मरीजों में ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है, लेकिन फिलहाल जोधपुर एम्स में 18 मरीज ब्लैक फंगस के भर्ती हैं. जिनका इलाज जोधपुर एम्स प्रसासन कर रहा है. जोधपुर एम्स में रोजाना दो ब्लैक फंगस मरीजों के ऑपरेशन कर उनके आंख व जबड़ा निकलना पड़ रहा है.

जोधपुर में 60 % डायबिटिक मरीज

आपको बता दें कि जोधपुर में ब्लैक फंगस बीमारी का खतरा इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि यहां टोटल कोरोना पॉजिटिव मरीजों में 60% डायबिटिक मरीज हैं जिनमे इम्यूनिटी कम होने से ब्लैक फंगस का खतरा ज्यादा होता है. जनवरी से अब तक 61588 मरीज कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. लेकिन उनमें से 60 फीसदी डायबिटिक मरीजों को सावधान रहने की जरूरत है.

सूजन और आंख-नाक लाल हो रहा हो तो तुरंत करवाएं चेक

वैसे तो जोधपुर के मेडिकल कॉलेज में 3 मरीजो में ब्लैक फंगस का इलाज चल रहा है, लेकिन जोधपुर एम्स में संभाग के जिलों से 18 मरीज ब्लैक फंगस के भर्ती हैं. चार मरीज जोधपुर जिले के हैं. चार मरीज पाली जिले से हैं. 5 मरीज बाड़मेर जिले के हैं और 5 अन्य मरीज अलग-अलग जिलों से जोधपुर एम्स में ब्लैक फंगस का इलाज करवा रहे हैं.  ईएनटी एचओडी डॉ अमित गोयल ने कहा कि चेहरे पर सूजन और आंख-नाक लाल हो रहा हो तो तुरंत ईएनटी विभाग के डॉक्टरों को चेक करवाएं. खासकर मरीज स्टेरॉइड दवाई ना लें.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :