इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

देशभर में 18 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए आज से शुरू हो रहा रजिस्ट्रेशन      ||      लखनऊ: मेदांता अस्पताल में मरीजों की मदद के लिए प्रियंका गांधी ने भेजा ऑक्सीजन का टैंकर      ||      भारत में कोरोना की बिगड़ती स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने बढ़ाया मदद का हाथ      ||      असम में आए भूकंप पर प्रियंका गांधी ने कहा- असम के लोगों के लिए मेरा प्यार और प्रार्थनाएं      ||      PM CARES से DRDO खड़े करेगा 500 ऑक्सीजन प्लांट      ||     

चक्रवाती तूफान टाउते का कहर जारी: डूंगरपुर में की जबरदस्त तबाही, जानें कहा किया क्या नुक्सान, कितनी हुई मौत

pooja 17-05-2021 12:27:53 17 Total visiter


डूंगरपुर: चक्रवाती तूफान टाउते ने अब राजस्थान में रफ़्तार पकड ली है और वहा भी तबाही मचाना शुरू कर दिया है. टाउते तूफ़ान के असर से डूंगरपुर जिले में जबर्दस्त आंधी-तूफान और बारिश का दौर शुरू हो गया है. इस दौरान अलग-अलग जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने से 4 लोगों की मौत हो गई. जिनमे तीन बच्चे भी शामिल है. जिनकी आयु कम बताई जा रही है. आकाशीय बिजली के कारण डूंगरपुर और प्रतापगढ़ में एक दर्जन से ज्यादा मवेशी भी अकाल मौत के शिकार हो गए. बिगड़े मौसम के कारण डूंगरपुर जिले में जबर्दस्त आंधी-तूफान और बारिश का सिलसिला लगातार जारी है.

रविवार शाम को टाउते तूफान का कहर डूंगरपुर जिले में देखने को मिला. यहां शाम को अचानक मौसम का मिजाज बदला. जिलेभर में तेज हवाओं के साथ आंधी-तूफान आया और फिर बारिश का दौर भी शुरू हो गया. बादलों की तेज गर्जना हुई और आसमान में घनघोर काले बादल छाने से अंधेरा पसर गया. तेज हवाओं के कारण कई बड़े-बड़े पेड़ धराशायी हो गए.

बड़े बड़े पेड़ गिरने से कई रास्ते बंद

तूफ़ान के चलते मुख्य मार्ग पर बड़े बड़े पेड़ गिरने से कई रास्ते बंद हो गए. आंधी के चलते कई जगहों पर बिजली के पोल गिर गए. इससे डूंगरपुर शहर सहित ग्रामीण इलाकों में बिजली गुल हो गई. वही तेज हवाओं के चलते कई लोगो के घरों के टिन शेड उड़ गए. पानी की टंकियां भी उड़ गईं. 

आम के पेड़ पर गिरी बिजली, मौत 

डूंगरपुर जिले के धम्बोला थाना इलाके के नागरिया पंचेला गांव में तूफान के चलते बिजली गिरने से दो मासूमों की मौत हो गई, जबकि एक बुजुर्ग सहित 2 बच्चे झुलस गए. गांव के 65 वर्षीय हाजा व चार बच्चे आम के पेड़ के नीचे हवा से गिर रहे आम इकट्ठा कर रहे थे. इस दौरान अचानक आकाशीय बिजली आम के पेड़ पर गिरी. इस दौरान बिजली की चपेट में आने से मासूम कैलाश व सुनीता की मौत हो गई.

चार-चार लाख रुपये सहायता राशि की घोषणा

हाजा और दो अन्य बच्चे भी झुलस गए. दूसरी तरफ बाबा की बार पंचायत में 13 वर्षीया बालिका और एक बैल की मौत हो गयी. भासोर गांव में जितेन्द्र पण्ड्या की मौत हो गयी तो विशाल और कमलेश को गंभीर हालत में सागवाड़ा के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया. मृतकों के परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से चार-चार लाख रुपये सहायता राशि दिये जाने की घोषणा की गई है.

उदयपुर संभाग रेड अलर्ट जोन में

प्रतापगढ़ के पीपलखूंट इलाके में बिजली गिरने से एक शिक्षक की मौत हो गई. वहां अभी बारिश का दौर जारी है. ताउते तूफान के मद्देनजर उदयपुर संभाग को रेड अलर्ट जोन में रखा गया है. उदयपुर में भी बारिश का दौर शुरू हो गया है. हाड़ौती के बारां में भी रुक-रुक कर हल्की फुहारें बरस रही हैं. चित्तौड़गढ़ में भी हल्की बारिश का दौर चल रहा है. बीकानेर में लोगों को घरों की चेतावनी दी जा रही है.
 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :