इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

देशभर में 18 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए आज से शुरू हो रहा रजिस्ट्रेशन      ||      लखनऊ: मेदांता अस्पताल में मरीजों की मदद के लिए प्रियंका गांधी ने भेजा ऑक्सीजन का टैंकर      ||      भारत में कोरोना की बिगड़ती स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने बढ़ाया मदद का हाथ      ||      असम में आए भूकंप पर प्रियंका गांधी ने कहा- असम के लोगों के लिए मेरा प्यार और प्रार्थनाएं      ||      PM CARES से DRDO खड़े करेगा 500 ऑक्सीजन प्लांट      ||     

पीएम का वाराणसी के डॉक्टर्स से संवाद, बोले- जहां बीमार, वहां उपचार

pooja 21-05-2021 13:13:38 21 Total visiter


नई दिल्ली। देश में कोरोना की दूसरी लहर के कहर के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के डॉक्टरों से विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद किया। डॉक्टरों से बात करते हुए पीएम मोदी भावुक हो गए। पीएम ने कहा कि कोविड के खिलाफ जारी इस लड़ाई में हमने कई अपनों को खो दिया है। 

पीएम ने स्वास्थ्यकर्मियों का जताया आभार 

प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मियों से बात करते हुए कहा कि, "मैं काशी का एक सेवक होने के नाते हर एक काशीवासी का धन्यवाद देता हूँ। विशेष रूप से हमारे डॉक्टर्स ने, नर्सेस ने, टेक्नीशियन, वॉर्ड बॉयज़, एम्ब्युलेन्स ड्राईवर्स, आप सभी ने जो काम किया है, वो वाकई सरहनीय है।" डॉक्टर्स से बात करते हुए पीएम भावुक हो गए और उन्होंने कहा कि, "इस वायरस ने हमारे कई अपनों को हमसे छीना है। मैं उन सभी लोगों को अपनी श्रद्धांजलि देता हूँ, उनके परिजनों के प्रति सांत्वना व्यक्त करता हूँ।" 

एक लंबी लड़ाई लड़नी है हमें: मोदी 

पीएम ने आगे कहा कि, "बनारस ने जिस स्पीड से इतने कम समय में ऑक्सीज़न और आईसीयू बेड्स की संख्या कई गुना बढ़ाई है, जिस तरह से इतनी जल्दी पंडित राजन मिश्र कोविड अस्पताल को सक्रिय किया है, ये भी अपने आपमें एक उदाहरण है। आपके तप से, और हम सबके साझा प्रयासों से महामारी के इस हमले को आपने काफी हद तक संभाला है। लेकिन अभी संतोष का समय नहीं है। हमें अभी एक लंबी लड़ाई लड़नी है। अभी हमें बनारस और पूर्वांचल के ग्रामीण इलाकों पर भी बहुत ध्यान देना है।"

बेहद कारगर रही आपकी नीति: मोदी

पीएम ने वाराणसी मॉडल की तारीफ करते हुए पीएम ने कहा कि, "जहां बीमार वहीं उपचार इस सिद्धांत पर माइक्रो-कंटेनमेंट ज़ोन बनाकर जिस तरह आप शहर एवं गावों में घर घर दवाएँ बाँट रहे हैं, ये बहुत अच्छी पहल है। इस अभियान को ग्रामीण इलाकों में जितना हो सके, उतना व्यापक करना है।"

दूसरी लहर के अनुभव पूरे प्रदेश को मिलने चाहिए

पीएम मोदी ने कहा कि दूसरी लहर के जो अनुभव वाराणसी और पूर्वांचल के स्वास्थ्यकर्मियों के रहे हैं वह इस बीमारी से निपटने के लिए बहुत फायदेमंद हैं वो पूरे प्रदेश को मिलने चाहिए। पीएम ने कहा मैं सभी जनप्रतिनिधियों को इस अभियान से जुड़ने के लिए संतोष प्रकट करता हूं। मुझे विश्वास है कि हम सबके सामूहिक प्रयास अच्छे परिणाम लाएंगे और बाबा विश्वनाथ की कृपा से हम सब इस लड़ाई को जीत जाएंगे।  

पीएम ने आगे कहा कि हमारी इस लड़ाई में अभी इन दिनों ब्लैक फंगस की एक और नई चुनौती भी सामने आई है। इससे निपटने के लिए जरूरी सावधानी और व्यवस्था पर ध्यान देना जरूरी है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :