इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

देशभर में 18 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए आज से शुरू हो रहा रजिस्ट्रेशन      ||      लखनऊ: मेदांता अस्पताल में मरीजों की मदद के लिए प्रियंका गांधी ने भेजा ऑक्सीजन का टैंकर      ||      भारत में कोरोना की बिगड़ती स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने बढ़ाया मदद का हाथ      ||      असम में आए भूकंप पर प्रियंका गांधी ने कहा- असम के लोगों के लिए मेरा प्यार और प्रार्थनाएं      ||      PM CARES से DRDO खड़े करेगा 500 ऑक्सीजन प्लांट      ||     

Shimla: मेडिकल स्टाफ की कमी हुई दूर, IGMC शिमला में हुई 100 नर्सों की नियुक्ति

pooja 21-05-2021 15:14:55 18 Total visiter


शिमला: हिमाचल प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलो की वजह से प्रदेश में रोजाना हजारों संक्रमित मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में वायरस से मरने वालों का आंकड़ा भी 60 से ज्यादा का आ रहा है. वही प्रदेश के सबसे बड़े स्वास्थ्य संस्थान आईजीएमसी में भी संक्रमितों के आने का सिलसिला जारी है. मौजूदा समय में आईजीएमसी में 335 कोरोना संक्रमितों का उपचार किया जा रहा है. जिनके लिए मात्र 60 नर्सिज ही निगरानी कर रही हैं और इसके अलावा 80 वार्ड ब्‍वॉय की भर्ती आउटसोर्स के आधार पर की गई है, जो कोरोना मरीजों की ही देखभाल करेंगे. आईजीएमसी को 100 नर्सों की नियुक्ति हुई है. नर्सों की नियुक्ति होने से अस्पताल में होने वाली मेडिकल स्टाफ की कमी दूर हो जाएगी.

मेडिकल स्टाफ की कमी को दूर करने के लिए स्वास्थ्य संस्थाओं को प्रदेश सरकार ने दो दिन पहले ही 714 स्टाफ नर्सों की नियुक्ति कंट्रेक्ट आधार पर की है, जिसमें से आईजीएमसी को 100 नर्सों की नियुक्ति हुई है. नर्सों की नियुक्ति होने से अस्पताल में होने वाली मेडिकल स्टाफ की कमी दूर हो जाएगी. बता दें कि अभी 60 नर्सें 335 मरीजों की देखभाल कर रही थीं, यानी कि एक नर्स 6 मरीजों की देखभाल कर रही थी. इससे अब इन नर्सों पर पड़ने वाला अतिरिक्त भार कम हो जाएगा. नई नियुक्ति मिलने से अब एक नर्स के हवाले सिर्फ दो ही मरीज आएंगे, जिससे मरीजों का अच्छी तरह से ख्याल रखा जा सकेगा. 

जल्‍द भरे जाएंगे शेष पद

आईजीएमसी के डिप्टी एमएस डॉ. राहुल गुप्ता ने बताया कि प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल में मेडिकल स्टाफ की कमी थी, जिसकी सरकार ने भरपाई कर दी है. कुछ समय पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आईजीएमसी के दौरे पर थे तो उन्हें स्थिति से अवगत करवाया गया था, जिसका परिणाम जल्दी मिल गया है. मुख्यमंत्री ने सबसे बड़े संस्थान को 100 नई नर्सों की नियुक्ति दी है, जिससे बहुत सारी कमी दूर हो गई है. पहले 80 वार्ड ब्‍वॉय की नियुक्ति की गई थी. अब 100 नई नर्सों की जिसका वे सरकार का आभार जताया है और महिलाओं पर पड़ने वाला तनाव इससे कम होगा. उन्होंने कहा कि अब आईजीएमसी में 85 फीसदी मेडिकल स्टाफ उपलब्ध है और 15 फीसदी की अभी कमी है, जिसे सरकार जल्द भरेगी. उन्होंने उम्मीद जताई है कि मेडिकल स्टाफ की कमी जल्द पूरी होगी.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :