इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

देशभर में 18 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए आज से शुरू हो रहा रजिस्ट्रेशन      ||      लखनऊ: मेदांता अस्पताल में मरीजों की मदद के लिए प्रियंका गांधी ने भेजा ऑक्सीजन का टैंकर      ||      भारत में कोरोना की बिगड़ती स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने बढ़ाया मदद का हाथ      ||      असम में आए भूकंप पर प्रियंका गांधी ने कहा- असम के लोगों के लिए मेरा प्यार और प्रार्थनाएं      ||      PM CARES से DRDO खड़े करेगा 500 ऑक्सीजन प्लांट      ||     

World Environment Day: वृक्षारोपण कार्यक्रम सिर्फ एक औपचारिक कार्यक्रम न बने: सीएम योगी

Shikha Awasthi 05-06-2021 17:25:04 8 Total visiter


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर अपने लखनऊ स्थित सरकारी आवास पर पौधारोपण कर प्रदेशवासियों को पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि वृक्षारोपण कार्यक्रम सिर्फ एक औपचारिक कार्यक्रम न बने। बल्कि उन परम्परागत वृक्षों को महत्व दें, जिनका प्रकृति की सुरक्षा और संरक्षण में योगदान है। सीएम ने इस दौरान पीपल, बरगद, पाकड़, देसी आम व अन्य औषधीय वृक्षों के रोपण किए जाने पर बल। उन्होंने कहा कि विगत वर्ष वन विभाग को एक और लक्ष्य दिया था कि 100 वर्ष की उम्र से अधिक जितने भी पेड़ हैं, उन्हें हेरिटेज वृक्ष के रूप में संरक्षित करने का महाभियान चलाया जाए। इसको लेकर भी प्रदेश में एक वृहद कार्यक्रम आगे चलाया जाएगा। 
  
वन महोत्सव में लगाए जाएंगे 30 करोड़ पेड़

सीएम योगी ने आगे कहा कि हम सब तभी तक सुरक्षित हैं, जब तक हमारा पर्यावरण सुरक्षित है। हमें प्रकृति व पर्यावरण के बीच में समन्वय बनाकर रखना होगा, यह हमारा नैतिक दायित्व भी है। इस वर्ष भी हम लोगों ने एक लक्ष्य रखा है। वन महोत्सव के कार्यक्रम जुलाई माह के प्रथम सप्ताह से प्रारंभ होंगे, जिसमें 30 करोड़ पेड़ लगाने का लक्ष्य है। 

बता दें कि इस कार्यक्रम में वन विभाग, यूपी सरकार के सभी विभाग, सभी संस्थाएं, ग्राम पंचायतें, नगर निकाय और आम जनता जुड़ी है। इस तरह प्रकृति की सुरक्षा के लिए एक प्रयास प्रारंभ होता है। बीते 04 वर्षों में पर्यावरण की सुरक्षा के लिए यूपी सरकार ने कई कदम उठाए हैं। वर्ष 2017 में बड़े पैमाने पर वृक्षारोपण का कार्यक्रम चलाया गया था, जिसमें 05 करोड़ पेड़ लगाने का लक्ष्य रखा गया था। वर्ष 2018 में 11 करोड़ और वर्ष 2019 में 22 करोड़ वृक्षारोपण का लक्ष्य प्राप्त किया गया। वहीं, पिछले साल कोविड महामारी के बावजूद 25 करोड़ से अधिक वृक्षारोपण का कार्यक्रम संपन्न हुआ। सीएम ने कार्यकर्म के दौरान लोगों से कहा कि पर्यावरण है तो प्रकृति भी है। प्रकृति है तो जीव सृष्टि भी है। इसलिए जीव सृष्टि की सुरक्षा के लिए आवश्यक है कि हम सब पर्यावरण के प्रति जागरूक हों।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :