इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

देशभर में 18 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए आज से शुरू हो रहा रजिस्ट्रेशन      ||      लखनऊ: मेदांता अस्पताल में मरीजों की मदद के लिए प्रियंका गांधी ने भेजा ऑक्सीजन का टैंकर      ||      भारत में कोरोना की बिगड़ती स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने बढ़ाया मदद का हाथ      ||      असम में आए भूकंप पर प्रियंका गांधी ने कहा- असम के लोगों के लिए मेरा प्यार और प्रार्थनाएं      ||      PM CARES से DRDO खड़े करेगा 500 ऑक्सीजन प्लांट      ||     

राज्यपाल धनखड़ की टीएमसी नेता को दो टूक, कहा- असल मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए लगाया जा रहा है तिकड़म

Shikha Awasthi 07-06-2021 18:29:28 14 Total visiter


कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चल रहे सियासी घमासान के बीच राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने टीएमसी नेता और सांसद महुआ मोइत्रा के बीच भी खींचतान जारी है। सोमवार को टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा की ओर से लगाए गए आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस की सांसद की ओर से उन पर राजभवन में ओएसडी पदों पर अपने परिवार के लोगों और परिचितों को नियुक्त करने के आरोप तथ्यात्मक रूप से गलत है। उन्होंने टीएमसी सांसद पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में खतरनाक कानून एवं व्यवस्था की स्थिति से ध्यान हटाने के लिए इस प्रकार के तिकड़म लगाए जा रहे हैं।  उन्होंने कहा कि विशेष ड्यूटी पर नियुक्त लोग उनके परिवार के करीबी नहीं है।

राज्यपाल धनखड़ ने ट्वीट करते हुए कहा किया, "महुआ मोइत्रा के ट्वीट और मीडिया में ओसीडी के छह अधिकारियों को मेरा रिश्तेदार बताना तथ्यात्मक रूप से गलत है। ये ओसीडी तीन अलग-अलग राज्यों और चार अलग-अलग जातियों से नाता रखते हैं। उनमें से कोई भी करीबी परिवार का हिस्सा नहीं है। उनमें से चार मेरी जाति या राज्य से नहीं है।" उन्होंने आगे कहा यह ममता बनर्जी की राज्य की खतरनाक कानून एवं व्यवस्था से ध्यान हटाने की तिकड़म का खुलासा करता है। राज्यपाल ने कहा कि वह राज्य के लोगों की सेवा करने और संविधान के अनुच्छेद 159 के तहत मेरे पद की शपथ को कायम रखना जारी रखेंगे।

महुआ मोइत्रा ने लगाया था राज्यपाल आरोप 

बता दें कि टीएमसी नेता महुआ मोइत्रा ने रविवार को पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को 'अंकल जी' कहते हुए दावा किया था कि उनके परिवार के सदस्यों और अन्य परिचितों को राजभवन में विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) नियुक्त किया गया है। मोइत्रा ने ट्विटर पर एक सूचि साझा किया था, जिसमें राज्यपाल के ओएसडी अभ्युदय शेखावत, ओएसडी-समन्वय अखिल चौधरी, ओएसडी-प्रशासन रुचि दुबे, ओएसडी-प्रोटोकॉल प्रशांत दीक्षित, ओएसडी-आईटी कौस्तव एस वलिकर और नव-नियुक्त ओएसडी किशन धनखड़ का नाम है।

तृणमूल सांसद ने राज्यपाल पर आरोप लगते हुए कहा था कि शेखावत धनखड़ के बहनोई के बेटे, रुचि दुबे उनके पूर्व एडीसी मेजर गोरांग दीक्षित की पत्नी तथा प्रशांत दीक्षित भाई हैं। मोइत्रा ने कहा कि वलिकर, धनखड़ के मौजूदा एडीसी जनार्दन राव के बहनोई हैं जबकि किशन धनखड़ राज्यपाल के एक और करीबी रिश्तेदार हैं।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :