इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

सीताराम येचुरी का केंद्र पर हमला, कहा- प्राइवेट है पीएम केयर फंड      ||      दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      जम्मू कश्मीर के कुलगाम में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी गिरफ्तार      ||      यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      यूपीः CM योगी और अखिलेश यादव को कोरोना, प्रियंका गांधी का ट्वीट- आप सुरक्षित रहें      ||     

ममता की चोट के मामले में EC ने उठाया बड़ा कदम, डीएम-एसपी का किया तबादला, डायरेक्टर सिक्योरिटी को पद से हटाया

14-03-2021 20:08:18 107 Total visiter


कोलकाता। बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर जारी सियासी घमासान के बीच चुनाव आयोग ने बड़ा एक्शन लेते हुए सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चोट लगने के मामले में आईपीएस विवेक सहाय डायरेक्टर सिक्योरिटी को उनके पद से तत्काल प्रभाव से हटा दिया है। चुनाव आयोग ने यह फैसला सेक्रेटरी की रिपोर्ट आने के बाद लिया है। साथ ही चुनाव आयोग ने कहा कि राज्य के चीफ सेक्रेटरी, डीजीपी के साथ बातचीत करके तत्काल नए डायरेक्टर सिक्योरिटी की नियुक्ति करें।

केंद्रीय चुनाव आयोग ने कहा कि उनके ऊपर जिम्मेदारी थी कि वह जेड प्लस प्लस (Z+) प्रोटेक्टि की सुरक्षा का ध्यान दें, लेकिन उसमें चूक हुई है, लिहाजा उनके खिलाफ जांच की जाएगी। पूर्व मेदिनीपुर के जिलाधिकारी की ज़िम्मेदारी आईएएस स्मिता पांडेय को दी गई है। इससे पहले विभु गोएल के पास ये ज़िम्मेदारी थी।

डायरेक्टर सिक्योरिटी के अलावा आयोग ने पूर्व मेदिनीपुर के एसपी प्रवीण प्रकाश का भी तबादला कर दिया है। उनकी जगह अब सुनील कुमार लेंगे। प्रवीण के खिलाफ भी सुरक्षा में चूक के आरोप तय होंगे। केंद्रीय चुनाव आयोग ने चीफ सेक्रेटरी को निर्देश दिया कि नंदीग्राम में ममता बनर्जी के साथ घटी घटना मामले पर जो एफआईआर दर्ज हुई है, उसकी जांच अगले 15 दिन में पूरी कर केंद्रीय चुनाव आयोग को जानकारी दें।

चुनाव आयोग ने स्टार कैंपेनर की सुरक्षा पर दिया निर्देश  

केंद्रीय चुनाव आयोग ने इसके साथ ही स्टार कैंपेनर की सुरक्षा को लेकर भी निर्देश जारी करते हुए कहा है कि इस संवेदनशील माहौल में उनकी सुरक्षा के लिए जरूरी है कि चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर का पूरी तरह से पालन किया जाए। इसके अलावा अगर उनको चुनावी सभा या रैली करने की अनुमति दी जा रही है, तो उस दौरान भी उनकी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाए. जरूरत पड़ने पर उनको बुलेटप्रूफ गाड़ियां भी दी जाए।

इतना ही नहीं चुनाव आयोग ने इसके साथ ही पंजाब के पूर्व डीजीपी इंटेलिजेंस अनिल कुमार शर्मा को स्पेशल पुलिस ऑब्ज़र्वर नियुक्त किया। जो पहले से ही नियुक्त स्पेशल पुलिस ऑब्ज़र्वर विवेक दुबे के साथ मिलकर काम करेंगे। सबके बीच केंद्रीय चुनाव आयोग ने उन सभी राज्यों के मुख्य चुनाव अधिकारी को निर्देश दिया है, जहां पर आगे कुछ महीनों में चुनाव होने हैं।

 चुनाव आयोग ने साफ तौर पर कहा कि स्टार कैंपेनर और जेड प्लस सुरक्षा पाए नेताओं की सुरक्षा में कहीं कोई चूक नहीं होनी चाहिए। उनके लिए वह सभी प्रोटोकॉल फॉलो करने चाहिए, जो उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जारी किए गए हैं।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :