इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

सीताराम येचुरी का केंद्र पर हमला, कहा- प्राइवेट है पीएम केयर फंड      ||      दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      जम्मू कश्मीर के कुलगाम में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी गिरफ्तार      ||      यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      यूपीः CM योगी और अखिलेश यादव को कोरोना, प्रियंका गांधी का ट्वीट- आप सुरक्षित रहें      ||     

बेटी से छेड़छाड़ का विरोध करने पर आरोपी ने की दरोगा पिता की पिटाई, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Shikha Awasthi 19-03-2021 17:58:32 30 Total visiter


मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में बेखौफ युवकों का दुस्साहस सामने आया है। जहां बेटी के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर दो युवकों ने दरोगा पिता की बेरहमी से पिटाई कर दी। ऐसे में सवाल ये उठता है कि जब पुलिस वाले ही सुरक्षित नहीं है तो आम आदमी क्या होगा?

बता दें कि मेडिकल थाना क्षेत्र में गुरुवार को कार सवार दो युवकों ने अराजकता की हदें पार कर दीं। पहले तो उन्होंने बाइक पर दरोगा के साथ जा रही बेटी का पीछा करते हुए उसे परेशान किया। वहीं बाद में पिता के विरोध करने पर उसके साथ मारपीट भी की। पिता काफी देर तक उनसे भिड़ता रहा। इसके बाद दोनों युवकों ने दरोगा को पकड़ लिया और बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया। भीड़ एकत्र होने लगी तो एक युवक कार लेकर भाग निकला, जबकि मुख्य आरोपी दीपक सांगवान निवासी गांव किठौली थाना रोहटा को दरोगा ने पकड़ लिया। हैरानी की बात तो ये रही कि आसपास खड़े लोग काफी देर तक तमाशबीन बने रहे। उन्होनें कोई बीच-बचाव नहीं किया।

बता दें कि जेल में तैनात एक दरोगा गुरुवार दोपहर अपनी बेटी को बाइक पर लेकर जा रहे थे। सर छोटू राम इंजीनियरिंग कॉलेज से थोड़ा आगे पहुंचने पर पीछे से कार सवार दो युवकों ने उनकी बाइक का पीछा किया। आरोप है कि ये युवक दरोगा की बेटी को परेशान कर रहे थे। इसके बाद उन्होंने बाइक को टक्कर मार दी। सिविल ड्रेस में मौजूद दरोगा ने युवकों को टोका तो वे अभद्रता पर उतर आए। यह देख दरोगा ने बेटी को पैदल ही वहां से आगे भेज दिया।

इसके बाद उन्होंने दरोगा के साथ मारपीट कर दी। युवक ने कभी दरोगा का गिरेबान पकड़ा तो कभी उसे सबक सिखाने की धमकी दी। वहीं कुछ देर बाद ही यातायात और डायल 112 पुलिस पहुंची। पुलिस आरोपी को लेकर थाने आ गई। देर रात तक पुलिस मामले को दबाए रही। सीओ सिविल लाइन देवेश सिंह ने भी घटना से अनभिज्ञता जताई। उन्होंने कहा कि ऐसी घटना हुई है तो जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

 

 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :