इमेज टुडे - ज़िन्दगी में भर दे रंग - समाचारों का द्विभाषीय पोर्टल

सीताराम येचुरी का केंद्र पर हमला, कहा- प्राइवेट है पीएम केयर फंड      ||      दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      जम्मू कश्मीर के कुलगाम में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी गिरफ्तार      ||      यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी      ||      यूपीः CM योगी और अखिलेश यादव को कोरोना, प्रियंका गांधी का ट्वीट- आप सुरक्षित रहें      ||     

अधजली अवस्था में मिली स्नातक की छात्रा, कहा- किया गया गैंगरेप का प्रयास

pooja 25-02-2021 16:40:10 58 Total visiter


शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जहां एक तरफ महिला सुरक्षा को लेकर तरह तरह के प्रयास कर रही है, वहीं दूसरी तरफ महिलाओं के साथ हो रही घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है। ऐसा ही एक मामला शाहजहांपुर जिले से सामने आया है जहां स्नातक की एक छात्रा को गैंगरेप में विफल होने पर आरोपियों ने उसे जिंदा जलाने का प्रयास किया। वहीं मामले में पुलिस ने कॉलेज से कुछ संदिग्ध लोगों से पूछताछ के लिए थाने ले गई है। पीड़िता ने पुलिस को दिए बयान में आरोप लगाया है कि सामूहिक बलात्कार में विफल रहने के बाद आरोपियों ने उसे आग के हवाले कर दिया। पुलिस अधीक्षक एस आनंद ने बुधवार को बताया कि स्वामी शुकदेवानंद महाविद्यालय में 22 फरवरी को स्नातक की एक छात्रा को जलाने के मामले में बुधवार को कुछ और संदिग्ध लोगों को पूछताछ के लिए कॉलेज से थाना तिलहर ले जाया गया। वहीं उन्होंने मामले के जल्द खुलासे का दावा भी किया।

वहीं शाहजहांपुर के पुलिस अधीक्षक ने बताया कि छात्रा ने पुलिस को दिए गए बयान में कहा है कि सोमवार को राय खेड़ा गांव के पास एक खेत में तीन लोगों ने उससे सामूहिक बलात्कार करने की कोशिश की थी, लेकिन जब वे इसमें कामयाब नहीं हो पाए तो उन्होंने उस पर मिट्टी का तेल डालकर आग के हवाले कर दिया। वहीं छात्रा को पहले शाहजहांपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। बाद में उसे लखनऊ स्थित सिविल अस्पताल में रेफर कर दिया गया। वहीं, सिविल अस्पताल के निदेशक डॉक्टर एस सी सुंदरयाल ने बताया कि छात्रा 70 फीसदी से अधिक जल चुकी है। अब छात्रा की हालत स्थिर बनी हुई है।

वहीं पुलिस अधीक्षक का कहना है कि छात्रा बार-बार अपने बयान बदल रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस मंगलवार को छात्रा के कॉलेज स्वामी शुकदेवानंद महाविद्यालय पहुंची और सीसीटीवी फुटेज देखे। फुटेज के मुताबिक छात्रा 11 बजकर 36 मिनट पर कॉलेज में दाखिल हुई और 11 बचकर 58 मिनट पर मुमुक्षु आश्रम कैंपस की टूटी दीवार के सहारे बाहर निकल गई। आनंद ने कहा कि लड़की को यह याद नहीं है कि वह कॉलेज परिसर में तीसरी मंजिल के बाद अस्पताल कैसे पहुंची?

वहीं पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस मामले की जांच में पुलिस तथा स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप की कुल 4 टीमें लगाई गई हैं और पुलिस उपाधीक्षक के साथ 5 पुलिसकर्मियों का एक दल लखनऊ के सिविल अस्पताल में तैनात है जहां पीड़िता इस वक्त भर्ती है। उन्होंने बताया कि पीड़िता ने घटना वाले दिन गांव के ही एक व्यक्ति को फोन किया था। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। अभी तक पुलिस ने छात्रा के कॉलेज में पढ़ने वाले 12 से ज्यादा छात्र-छात्राओं और उसके दोस्तों को पूछताछ के लिए बुलाया है।

 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :