काबुल एयरपोर्ट से प्लेन हाईजजैक को ईरान ने बताया ‘फर्जी’, युक्रेन ने किया था दावा

0 239

काबुल। अफगानिस्तान में बढ़ते संकट के बीच मंगलवार को यूक्रेन के डेप्युटी विदेश मंत्री ने दावा किया कि उनका एक विमान अफगानिस्तान में हाईजैक कर लिया गया है। यह विमान यूक्रेन के नागरिकों को काबुल से निकालने के लिए आया था। उन्होंने कहा कि विमान को ईरान ले जाया गया है। यह विमान किन लोगों ने हाईजैक किया है, अभी इसका पता नहीं चल पाया है। यूक्रेन का यह विमान ऐसे समय पर हाइजैक किया गया है जब अफगानिस्‍तान से लोगों को निकालने के लिए दुनियाभर के देश दिन-रात एक किए हुए हैं।

यूक्रेन के दावे को ईरान ने बताया फर्जी

वहीं यूक्रेन के प्लेन को हाईजैक को ईरान ले जाने वाले दावे को ईरान ने फर्जी करार दिया है। ईरान ने दावा किया है कि यह विमान उनके यहां तेल लेने के लिए उतरा था और बाद में कीव के लिए रवाना हो गया। बताया जा रहा है कि इस विमान को पिछले सप्‍ताह काबुल भेजा गया था। अब अज्ञात लोग इस विमान को ईरान लेकर गए हैं। बताया जा रहा है कि अपहरण करने वाले लोग हथियारबंद थे। इससे पहले भी यूक्रेन ने अपने नागरिकों को निकालने की कोशिश की थी लेकिन वे एयरपोर्ट पर नहीं पहुंच सके थे। अब विमान के अपहरण के बाद अटकलों का बाजार गरम हो गया है।

काबुल में फंसे हैं करीब 100 यूक्रेनी नागरिक

यूक्रेन के मंत्री ने यह नहीं बताया कि उनके प्‍लेन के साथ क्‍या हुआ और क्‍या उनका देश इस विमान को वापस लाएगा या फिर काबुल से यूक्रेन के नागरिक कैसे वापस आएंगे। उन्‍होंने कहा कि राजनयिक प्रयास किए जा रहे हैं। इससे पहले रविवार को 31 यूक्रेनी नागरिकों समेत 83 लोगों को एक सैन्‍य ट्रांसपोर्ट विमान से लाया गया था। राष्‍ट्रपति के कार्यालय ने कहा था कि यूक्रेनी सेना के 12 लोग भी वापस आए हैं। उन्‍होंने बताया कि करीब 100 यूक्रेनी नागरिक काबुल में फंसे हुए हैं।