सिद्धू को लेकर मनीष तिवारी का आलाकमान पर कटाक्ष, कहा- वो क़त्ल भी करते हैं तो चर्चा नहीं होती

0 263

नई दिल्ली। पंजाब कांग्रेस में चल रही अंदरूनी कलह खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के गुटों के बीच चल रही जंग में अन्य कांग्रेस नेता भी शामिल होते नजर आ रहे हैं। बीते दिन शनिवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने नवजोत सिंह सिद्धू के मामले में शीर्ष नेताओं के नरम रवैये को लेकर कटाक्ष किया है।

मनीष तिवारी ने शनिवार को नवजोत सिंह सिद्धू का एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि, “हम आह भी भरते हैं तो हो जाते हैं बदनाम, वो क़त्ल भी करते हैं तो चर्चा नहीं होती।” मनीष की ओर से शेयर की गई इस वीडियो क्लिप में सिद्धू धमकी देते दिख रहे हैं कि कांग्रेस ने अगर उन्‍हें निर्णय लेने का अधिकार नहीं दिया तो वह मुंहतोड़ जवाब देंगे।

गौरतलब है कि मनीष तिवारी उन जी-23 नेताओं में शामिल हैं, जिन्होंने पिछले साल पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी में व्यापक बदलाव करने के लिए कहा था। इन नेताओं ने इस पत्र में  हस्ताक्षर भी किए थे।

पंजाब में सब कुछ ठीक: हरीश रावत

वहीं इस मामले पर पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने कहा, ‘पंजाब में सब चीजें  ठीक से चल रही हैं। चुनाव जब नज़दीक होते हैं तो थोड़ी हलचल होती है।’ इसका मतलब ये नहीं है कि सब कुछ सामान्य नहीं है।