विदेश से इंडिया पहुंचा ‘ओमिक्रॉन’, दिल्ली के LNJP में भर्ती हुए 12 संदिग्ध मरीज

0 151

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली (Delhi) में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ के 12 संदिग्ध मरीज मिले हैं. सभी को लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया है. खबर है कि दो की कोविड-19 (Covid-19) रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. जबकि, अन्य की जांच नतीजों का इंतजार किया जा रहा है. कहा जा है कि 4 संदिग्धों ब्रिटेन, एक फ्रांस और एक नीदरलैंडस से लौटा था.

दिल्ली में शुक्रवार को ‘ओमिक्रॉन’ संदिग्धों की संख्या बढ़कर 12 हो गई है. गुरुवार तक LNJP में 8 मरीज भर्ती थे. सभी मरीजों के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं. राजस्थान के जयपुर में भी शुक्रवार को एक ही परिवार को पांच लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं. परिवार ने जानकारी दी है कि उनके रिश्तेदार दक्षिण अफ्रीका से भारत आए थे. फिलहाल, स्वास्थ्यकर्मियों ने परिवार को घर पर ही क्वारंटीन किया है. साथ ही सभी के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं.

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को जानकारी दी थी कि कर्नाटक में नए वेरिएंट के दो संभावित मामले मिले हैं. कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर के सुधाकर ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा था, ‘दो लोग कोविड-19 के ओमिक्रॉन वेरिएंट पॉजिटिव पाए गए हैं. एक व्यक्ति की उम्र करीब 66 वर्ष है और दक्षिण अफ्रीका का नागरिक है, वह वापस चला गया है. एक अन्य 46 वर्षीय डॉक्टर है. उसकी कोई भी ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है.’

नवंबर-दिसंबर के बीच मुंबई पहुंचे 9 अंतरराष्ट्रीय यात्री कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. खास बात है कि इनमें से एक यात्री दक्षिण अफ्रीका से भी आया था. बीएमसी की तरफ से जारी किए गए 9 अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के आंकड़े 10 नवंबर से लेकर 2 दिसंबर तक के हैं. बीएमसी ने जानकारी दी है कि सभी के सैंपल को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेज दिया गया है.

कोविड-19 के नए वेरिएंट की पहचान सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में हुई थी, जिसकी सूचना विश्व स्वास्थ्य संगठन को 24 नवंबर को दी गई. 26 नवंबर को WHO ने इसे वेरिएंट ऑफ कंसर्न बताया था. कई देशों ने स्वास्थ्य सुरक्षा के लिहाज से दक्षिण अफ्रीकी देशों में यात्राओं पर पाबंदियां लगा दी हैं. भारत में भी सरकार नए वेरिएंट पर अलर्ट मोड पर है. सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए कड़े नियम लागू किए गए हैं.