पीएम मोदी ने Sansad TV का किया शुभारंभ, कहा- जब देश देखता है तो बेहतर आचरण की प्रेरणा मिलती है

0 188

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘संसद टीवी’ का शुभारंभ किया। इसी के साथ ही राज्यसभा और लोकसभा कला विलय कर दिया गया है। दोनों को मिलाकर संसद टीवी बनाया गया है। प्रधानमंत्री मोदी ने संसद टीवी को लॉन्च करते हुए कहा कि हमारी संसद में जब सत्र होता है, अलग अलग विषयों पर बहस होती है तो युवाओं के लिए कितना कुछ जानने सीखने के लिए होता है। हमारे माननीय सदस्यों को भी जब पता होता है कि देश हमें देख रहा है तो उन्हें भी संसद के भीतर बेहतर आचरण की, बेहतर बहस की प्रेरणा मिलती है।

लोकतंत्र की जननी है भारत: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने आगे कहा कि आज का दिन हमारी संसदीय व्यवस्था में एक और महत्वपूर्ण अध्याय जोड़ रहा है। आज देश को संसद टीवी के रूप में संचार और संवाद का एक ऐसा माध्यम मिल रहा है जो देश के लोकतंत्र और जनप्रतिनिधियों की नई आवाज के रूप में काम करेगा। उन्होंने कहा कि, “भारत लोकतंत्र की जननी है। भारत के लिए लोकतंत्र केवल एक व्यवस्था नहीं है, एक विचार है। भारत में लोकतंत्र, सिर्फ संवैधानिक स्ट्रक्चर ही नहीं है, बल्कि वो एक स्पिरिट है। भारत में लोकतंत्र, सिर्फ संविधाओं की धाराओं का संग्रह ही नहीं है, ये तो हमारी जीवन धारा है।”

मेरा अनुभव है कन्टेंट इज़ कनेक्ट: पीएम मोदी

पीएम ने कहा कि मेरा अनुभव है कि ‘कन्टेंट इज़ कनेक्ट।’ यानी जब आपके पास बेहतर कन्टेंट होगा तो लोग खुद ही आपके साथ जुड़ते जाते हैं। ये बात जितनी मीडिया पर लागू होती है, उतनी ही हमारी संसदीय व्यवस्था पर भी लागू होती है! क्योंकि संसद में सिर्फ पॉलिटिक्स नहीं है, पॉलिसी भी है।

वहीं उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि, “हम दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र में से एक हैं। ये घटना प्रतीकात्मक रूप से लोकतांत्रिक सरकार में मीडिया के महत्व को उजागर करती है।”

Leave A Reply