तालिबान ने अमरुल्लाह सालेह से लिया बदला, करीबी को टॉर्चर कर उतरा मौत के घाट

0 200

काबुल। तालिबान ने अफगानिस्तान का आखिरी किला कहे जाने वाले पंजशीर पर कब्जा जमा लिया है। जिसके बाद तालिबान चुन-चुनकर अपने विरोधियों से बदला ले रहा है। ताजा रिपोर्ट के मुताबिक तालिबान ने पूर्व उपराष्ट्रपति और तालिबान का लगातार विरोध कर रहे अमरुल्लाह सालेह के बड़े भाई रोहुल्लाह सालेह की तड़पा कर हत्या कर दी है। यह दावा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि तालिबान के एक लड़ाके की उसी जगह की एक तस्वीर सामने आई है, जहां से सालेह ने एक वीडियो साझा किया था।

बताया जा रहा है कि तालिबान ने अमरुल्लाह के घर पर कब्जा जमा रखा है। हालांकि हम (इमेज टुडे) इन दावों की पुष्टि नहीं कर रहे हैं। अभी तक तालिबान की ओर से रोहुल्लाह सालेह को लेकर कोई दावा नहीं किया है, और न ही सालेह की ओर से भी कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

गौरतलब है कि पंजशीर अफगानिस्तान का वही प्रांत है जहां अमरुल्लाह सालेह अहमद शाह मसूद के बेटे अहमद मसूद के साथ मिलकर तालिबान से संघर्ष कर रहे हैं। बता दें कि अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने राष्ट्रपति अशरफ गनी के देश छोड़ देने के बाद खुद को राष्ट्रपति घोषित कर रखा है। सालेह ने दुनिया के देशों से अपील की है कि वह तालिबान को मान्यता न दें।